Generation of Computer

Generation of Computer तथा इसके बारे में संपूर्ण जानकारी हिंदी में ।

Generation of Computer का सीधा सम्बन्ध इसके टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में बदलाव से है. प्रत्येक generation के साथ कंप्यूटर के circuit, size तथा इसके पार्ट्स को अपग्रेड किया गया. जिससे कंप्यूटर का स्पीड तथा प्रोसेसिंग दोगुना, मेमोरी ज्यादा तथा साइज में छोटा होता गया. इससे यह अधिक reliable हो गया. शुरुआत में इसमें changes का मतलब hardware के changes से होता था, परन्तु अब इसका सम्बन्ध hardware तथा software दोनों से है. इसको हम 5 भागों में विभाजित कर सकते है. जो इस प्रकार से है.

01. First Generation Computer: 1940-1956 (Vaccum tube based)
02. Second Generation Computer : 1956-1963 (Transister based)
03. Third Generation Computer : 1964-1971 (Integrated circuit based)
04. Fourth Generation Computer : 1972-1980 (VLSI microprocessor based)
05. Fifth Generation Computer : 1980 onwards (ULSI microprocessor based)

 

First Generation Computer : 1940-1956 (Vaccum tube based)

इसमें सर्किट तथा मेमोरी के basic component के लिए vaccum tube का इस्तेमाल किया जाता था. Vaccum tube एक ऐसा डिवाइस था जो Vaccum तथा electrodes के बीच electric current के flow को कंट्रोल करता था. यह बहुत ही महँगी होती थी. इनपुट और आउटपुट के लिए punch card, magnetic tape, paper tape इत्यादि का इस्तेमाल किया जाता था. इस generation के कंप्यूटर के लिए machne language का इस्तेमाल होता था.

Generation of Computer
Colossus Computer : Mydigitalbuzz                         Image Source: Wikipedia

इस generation के कंप्यूटर के कुछ उदहारण इस प्रकार से है:-

क्रम संख्या कंप्यूटर का नाम साल
01 COLOSSUS 1943
02 ENIAC 1945
03 EDSAC 1949
04 BINAC 1949
05 IBM 305 RAMAC 1956

आइये अब इस generation के बारे में कुछ जानकारियां जो आपके लिए महत्वपूर्ण हो सकती है.

उस समय  :-

  • Circuit के लिया vaccum tube का इस्तेमाल किया जाता था.  
  • यह अधिक भरोसेमंद नहीं था. 
  • यह केवल machine language को सपोर्ट करता था.  
  • अधिक costly था. 
  • साइज में बहुत अधिक बड़ा होता था. 
  • अधिक इलेक्ट्रिक खपत करता था. 
  • बहुत अधिक गर्म हो जाता था. 
  • मेमोरी के लिए magnetic drum इस्तेमाल करता था. 
  • काफी कम मेमोरी होता था.  इत्यादि

कंप्यूटर के सतत विकास को ही कंप्यूटर जनरेशन कहते है. कंप्यूटर के जनरेशन के बाद अब मैं आपको मेमोरी तथा इसके types के बारे में जानकारी देने का प्रयास करूँगा। mydigitalbuzz.in पर आने के लिए धन्यवाद।  

Leave a Comment

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *